जब बीच मैदान पर युवराज को हुई थी खून भरी उल्टियां,मारा युवी ने शतक

617

सो फाइनली कल यानी 10 जून को सिक्सर किंग युवराज ने क्रिकेट की दुनिया को अलविदा कह ही दिया.जब तक वो मैदान में रहें तब तक उनके नाम का अलग ही भौकाल हम सबको देखने को मिला.जोश हमेशा चरम पर रखने वाले खिलाड़ी का नाम था युवराज. युवराज सिंह की पहचान एक ऐसे खिलाड़ी के तौर पर बनी जो लड़ना जानता था,जिसको हर कंडीशन में मजा आता था.कैंसर जैसी गंभीर बिमारी को मात देते हुए मैदान में वापसी करने के बाद युवी ने अपने शानदार प्रदर्शन करते हुए अभी का ध्यान अपनी तरफ खींच सा लिया.

युवी के अंदर देश के लिए खेलने का अनूठा जज्बा था और वो तब देश के सामने आया जब 2011 के विश्व कप टूर्नामेंट में भारत और वेस्टइंडीज के बीच मैच खेला गया. उस मैच में सब कुछ अच्छा चल रहा होता है,पिच पर युवी टिके हुए थे और भारतीय पारी को लगातार अपने बेहतरीन शॉटस से आगे बढ़ा रहें थे. खेलते-खेलते अचानक युवराज सिंह मैदान में गिर पड़ते हैं और उसके बाद उन्हें खून की उल्टियां होने लगती है,भारतीय ड्रेसिंग रूम में नया खिलाड़ी बस मैदान पर उतरने ही वाला होता है कि युवी कह देते है। कि वो ठीक है और वो ही खेलेंगे. तबियत खराब होने के बाद भी वो मैदान पर डटे रहे और 113 रन की शतकीय पारी ठोक डाली. वाकई ये पारी ऐसी थी जिसने युवी की छवि को आक्रमक के साथ साथ जुझारू खिलाड़ी के तौर पर भी विकसित कर दिया था.जब 2011 का विश्व कप भारतीय जमीन पर खेला जा रहा था तब युवराज सिंह कैंसर जैसी घातक बिमारी की चपेट में आ चुके थे लेकिन युवराज ने विश्व कप के बाद ही अपने कैंसर का इलाज के लिए प्लान कर लिया. युवराज की जिद थी की वो विश्व कप को जीतकर ही यहां से जाएंगे. यही वजह भी रही कि गम्भीर बीमारी से पीड़ित होने के बावजूद वो पूरे विश्व कप में खेले और अपने नाम का रौला पूरी दुनिया मे टाइट कर दिया.

2007 के टी-20 वर्ल्ड कप मुकाबले में ब्रॉड की 6 गेंदों पर 6 छक्के उड़ाने वाले युवराज सिंह 2015 के वनडे विश्व कप में इस टूर्नामेंट में मैच ऑफ द सीरीज भी बने आपको यहां ये जनाना बेहद जरूरी है कि उन्होंने वर्ल्ड कप में 362 रन के साथ-साथ 15 विकेट भी चटकाए थे. युवी दुनिया के ऐसे पहले खिलाड़ी है जिन्होंने विश्व कप टूर्नामेंट में 300 से ज्यादा रन बनाए और 15 विकेट भी लिए. फिलहाल युवी के नाम का सितारा डूब गया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here