महबूबा मुफ्ती की बेटी ने अमित शाह को भेजे लेटर में क्या लिखा ?

1263
mehbooba-mufti-daughter
Photo : ZEE NEWS

5 अगस्त को मोदी सरकार ने जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 को हटाने का फैसला सुनाया था और ठीक एक दिन पहले राज्य के बड़े नेताओं की घेरा बंदी कर दी थी साथ ही पूरे जम्मू-कश्मीर में कर्फ्यू भी लगा दिया था। 12 दिन हो गए हैं और पूर्व मुख्या मंत्री महबूबा मुफ़्ती और उमर अब्दुल्ला को अभी तक घर के अंदर बंद किया हुआ है। ऐसे में महबूबा मुफ़्ती की बेटी ने इल्तिजा जावेद ने एक वॉइस मैसेज जारी किया है जिसमे उन्होंने बताया है कि उन्हें और उनके परिवार को घर के अंदर बंद कर दिया है और उनके साथ गलत व्यवहार किया जा रहा है। इल्तेजा का कहना है कि उन्हें धमकी दी गयी है कि अगर उन्होंने दुबारा मीडिया से बात करने की कोशिश की तो उसके परिणाम गंभीर होंगे।

mehbooba-mufti-daughter
Photo : ZEE NEWS

इल्तेजा ने ये भी बताया है कि उन्होंने गृह मंत्री को चिट्ठी भी लिखी है और अमित शाह से अपने सवालों का जवाब माँगा है। इल्तेजा जावेद ने ये बयान दिया है कि जहां पूरा देश स्वतंत्रता दिवस मना रहा है उस वक़्त पूरे कश्मीर को जानवरों की तरह कैद कर के रखा हुआ है। मीडिया तक पहुंची चिट्ठी और वॉइस मैसेज में इल्तेजा ने लिखा है कि उन्हें घर से बाहर निकलने की इजाज़त नहीं और उन्हें किसी से मिलने भी नई दिया जा रहा है। उन्हें दरवाज़े के बाहर कदम तक रखने नहीं दिया जा रहा है। उनका कहना है कि वो किसी भी राजनितिक पार्टी से जुडी हुई नहीं और सभी नियम और कानूनों को पूरी तरह मानती तो फिर उनके साथ ये झुल्म क्यों? अपने शब्दों में इल्तेजा ने ये भी कहा कि विश्व के सबसे बड़े लोकतंत्र में उन्हें सामने आ कर बोलने का भी अधिकार नहीं दिया जा रहा है और एक गुनहगार की तरह उनके साथ बर्ताव किया जा रहा है।

यह भी पढ़े : भारत को चीफ ऑफ डिफेन्स की जरूरत क्यों है ?

आपको बता दें की 5 अगस्त से ही जम्मू-कश्मीर में कर्फ्यू लगा हुआ है और इंटरनेट की सेवा को बंद कर दिया गया है। महबूबा मुफ्ती सहित उमर अब्दुल्ला को घर में बंधी बना दिया है। जानकारी के लिए बता दे कि महबूबा मुफ्ती ये धमकी दे चुकी हैं कि अनुच्छेद 370 और 35a को हटाने वाले को वो जला कर राख कर देंगी। जम्मू-कश्मीर में सरकार के फैसले के बाद किसी भी प्रकार की हिंसा न हो इसलिए कर्फ्यू लगाया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here