उर्मिला मातोंडकर ने अनुच्छेद 370 हटाने के फैसले को बताया अमानवीय

223

5 अगस्त को केंद्रीय सरकार ने जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 को हटाने का फैसला सुनाया था। जिसके बाद विपक्षी नेता और देश की जनता में हलचल मच गयी थी। भारत सरकार ने अनुच्छेद 370 को हटाने के साथ-साथ जम्मू-कश्मीर में कड़ी सुरक्षा के इंतज़ाम के लिए भारतीय सेना की सैकड़ो टुकड़ियां भी तैनात करवाई थी। इसके साथ ही घाटी में कर्फ्यू भी लगा दिया था जिसके कारण सभी नागरिकों को घरों में बंद रहना पड़ा। सरकार के फैसले से राज्य में कोई हिंसा न फैला सके इसके लिए सरकार ने जम्मू-कश्मीर में संचार की सेवा को भी बंद कर दिया था। सरकार द्वारा लिए गए इस फैसले का विरोध दूसरी राजनितिक पार्टियों के नेताओं ने जम कर किया लेकिन वहीँ देश की ज़्यादातर जनता ने इस फैसले को सही भी बताया है।

source-indiatv

नेताओं और जनता की ऐसी प्रतिक्रिया के बीच अब लोकसभा चुनावों के दौरान कांग्रेस पार्टी में शामिल होने वाली बॉलीवुड की अभिनेत्री उर्मिला मातोंडकर ने भी हाल ही में अनुच्छेद 370 को हटाने के फैसले पर अपना बयान दिया है। बयान देने के बाद उर्मिला एक बार फिर चर्चा का विषय बन गयी है। कांग्रेस के बाकी नेताओं की तरह उर्मिला ने भी अनुच्छेद 370 का विरोध किया है। उर्मिला ने भारत सरकार द्वारा लिए गए फैसले को अमानवीय बताया है। उर्मिला का कहना है कि उनके सास और ससुर जम्मू कश्मीर में रहते है और सरकार के निर्देशानुसार वह पर सभी सुविधाओं पर रोक लगाने की वजह से उनके पति की अपने माता पिता से बात नहीं हो पायी है। अमर उजाला की खबर के अनुसार उर्मिला ने मीडिया को बताया है कि उनके सास और ससुर को डायबटीज़ और हाई ब्लड प्रेशर की बीमारी है। उर्मिला ने मीडिया के सामने अपनी चिंता ज़ाहिर कर कहा कि उनको फ़िक्र है कि उनके सास और ससुर के पास दवाइयां हैं या नहीं ? या उनकी तबियत सही है या नहीं।

source-thehindu

उर्मिला ने बताया कि उनके पति की उनके माता से 22 दिन से बात नहीं हुई है जिसकी वजह से वो बेहद परेशान हैं। उर्मिला ने सरकार के फैसले पर कहा कि सवाल अनुच्छेद 370 को हटाने का नहीं बल्कि उसको हटाए जाने के तरीके का है। उर्मिला ने अनुच्छेद 370 को हटाने के लिए सरकार ने जो कदम उठाये हैं उस पर सवाल किये हैं। उर्मिला ने सरकार के तरीके को अमानवीय बताया है। हालाँकि इसमें कोई शक नहीं है कि उर्मिला बीजेपी के फैसलों पर सवाल उठाती हैं। पहले भी देखा गया है कि उर्मिला ने सरकार के खिलाफ जा कर बयानबाज़ी की है जिसके वजह से वो खबरों में बनी रही हैं। आपको बता दें कि उर्मिला की शादी कश्मीर के रहने वाले एक बिज़नेस मैन से हुई थी जिनका नाम मोहसिन अख्तर है।

source-indiatoday

हाल ही में ये खबर भी आयी थी कि कश्मीर से अनुच्छेद 370 को हटाने के खिलाफ कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गाँधी और उनके साथ अन्य नेताओं ने जो बयान दिए थे उन्हें पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने अपने फायदे के लिए इस्तेमाल किया था। आपको बता दें कि इमरान खान ने 370 को हटाने के सम्बन्ध में यूएन को चिठ्ठी लिख कर दी है जिसमे उन्होंने राहुल गांधी के बयानों का इस्तेमाल किया है और कहा है कि भारत के बड़े नेता राहुल गांधी खुद इस बात को स्वीकार करते हैं कि कश्मीर में जो हो रहा है वो सही नहीं है और कश्मीर के लोगों को मारा जा रहा है।

source-theprint

इमरान खान के इस कदम के बाद कांग्रेस को खुद पर मुसीबतों का पहाड़ गिरता नज़र आया तो राहुल गांधी खुद और कांग्रेस के अन्य नेता राहुल के बचाव में सामने आये। राहुल ने 28 अगस्त को ट्वीट कर सरकार के फैसले का समर्थन भी किया था। अभी तक बयानों को लेकर कांग्रेस की परेशानियां ख़त्म हुई नहीं थी कि अब उर्मिला भी 370 के खिलाफ बयान दे कर एक बार फिर इस मुद्दे को चर्चाओं में ले आयी हैं। देखना अब ये है कि राहुल गांधी के बचाव में सामने आने वाले नेता अब उर्मिला के बयान पर क्या प्रतिक्रिया देते है।

the panchayat

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here