बिजली कटौती पर युवक ने सोशल मीडिया पर डाली पोस्ट, तो पुलिस जेल में डाल दिया

379
chattishgarh The man posted a post on the social media on the power cut, then put the police in jail

2014 में नरेंद्र मोदी की सरकार बनती है और उस के बाद नरेंद्र मोदी कहते है की अब डिजिटल इंडिया पर काम करना है । और ऐसा ही होता है लोग पैसे के लेनदेन डिजिटली करने लगते है और उसके साथ ही एक बेहद रोचक चीज़ देश में पहली बार देखने को मिली वो ये थी ।

की लोग अब सरकार की समस्याओं को भी डिजिटली शिकायत करने लगे आपने कई बार देखा होगा की लोग ट्वीट करते है और उनकी समस्याओं का समाधान हो जाता है भले ही वो रेलवे से जुडी हो या विदेश मंत्रालय से .

लेकिन आपने सुना है कि किसी ने शिकायत की हो और उसे गिरफ्तार कर लिया हो अगर नही तो आपको बता दे की छतीसगढ़ की कॉंग्रेस सरकार ने यह काम कर दिया है।

दरअसल छतीसगढ़ के मुसरा डोंगरगढ़ के रहने वाले मांगेलाल अग्रवाल को पुलिस ने इसलिए गिरफ्तार कर लिया क्योंकि उन्हें बिजली नही मिल रही थी और उन्होंने इसकी शिकायत के लिए एक वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर डाल दी ।

पुलिस ने मांगेलाल को राजद्रोह की धारा 124 ए के तहत गिरफ्तार किया गया. उनके खिलाफ बिजली कंपनी ने शिकायत की थी उसी के आधार पर गिरफ्तारी हुई है ।

विडियो में क्या है ?

वीडियो में मांगेलाल यह कहते हुए सुनाई दे रहे हैं कि छत्तीसगढ़ सरकार की एक इनवर्टर बनाने वाली कंपनी से सांठगांठ है जो राज्य सरकार को पैसे देती है. आरोप है कि अनुवंध के तहत हर घंटे और 2 घंटे में 10 से 15 मिनट की बिजली कटौती की जाती है. ऐसा होने से इनवर्टर की बिक्री बढ़ जाएगी.

कोई बयान दिया किसी नेता ने ?

हाँ इस घटना पर सीएम भूपेश बघेल ने कहा, “हम अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के पक्षधर हैं. राजद्रोह का मुकदमा नहीं लगना चाहिये था. दूसरी धाराओं में कार्रवाई होगी. मैने पूरे मामले पर डीजीपी से बातकर नाराजगी जाहिर की.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here