राहुल गांधी के सरकार के खिलाफ दिए बयान बने पाकिस्तान का सहारा

333

जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 को हटाने के बाद कांग्रेस के नेता लगातार मोदी सरकार के इस फैसले पर सवाल उठाते आये हैं। कांग्रेस के नेताओं में पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी भी शामिल हैं। ये तो सभी को पता होगा कि मोदी सरकार द्वारा कश्मीर से अनुच्छेद 370 को हटाने के बाद राहुल गांधी ने किस तरह इस फैसले के खिलाफ लगातार ट्वीट किये थे साथ ही बयान भी दिए थे। राहुल गांधी द्वारा दिए बयानों को न सिर्फ भारत बल्कि पूरी दुनिया ने सुना और देखा है ऐसे में अब खबर आ रही है कि पाकिस्तान के प्रधान मंत्री इमरान खान ने मौके का फायदा उठाते हुए राहुल गांधी के बयान को अपने फायदे के लिए इस्तेमाल किया है।

आपको बता दें कि पहले जहाँ राहुल गाँधी सरकार के फैसले के खिलाफ थे वही उन्होंने 28 अगस्त को आखिरकार अनुच्छेद 370 को हटाने का समर्थन किया है। लेकिन ऐसा क्या हुआ जो अचानक राहुल गांधी की जुबां और तेवर दोनों ही बदल गए। दरअसल हाल ही में खबर आयी थी कि पाकिस्तान ने संयुक्त राष्ट्र को चिट्ठी लिख कर भेजी है जिसमे इमरान खान ने राहुल गांधी का नाम इस्तेमाल किया है साथ ही उनके द्वारा दिए गए बयानों को भी इस्तेमाल में लिया है। इमरान खान ने राहुल गांधी के बयानों का ज़िक्र जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 को हटाने के फैसले के विरोध में किया है। चिट्ठी में लिखा गया है कि भारत में कांग्रेस पार्टी के नेता राहुल गांधी का भी ये मानना है कि जम्मू-कश्मीर में लोगों के साथ अन्नय हो रहा है और वह लोगों मरा जा रहा है। चिट्ठी में राहुल गांधी के साथ साथ मेहबूबा मुफ़्ती और उमर अब्दुल्लाह का नाम भी शामिल है।

हालाँकि इस खबर के सामने आते ही राहुल गांधी और कांग्रेस पार्टी अब राहुल के बचाव में आगे आ रही है। राहुल गांधी ने बुधवार 28 अगस्त को ट्वीट कर लिखा है कि वो सरकार के कई फैसलों के खिलाफ हैं लेकिन इस बात से सहमत भी है कि कश्मीर और लद्दाख भारत अभिन्न अंग है और कश्मीर मुद्दा भारत का आंतरिक मामला है। राहुल गाँधी के साथ साथ कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने भी राहुल गांधी का बचाव करते हुए कहा है कि पाकिस्तान राहुल गांधी के बयानों का गलत इस्तेमाल कर रहा है। उनका कहना है कि पाकिस्तान यूएन में अपने झूठ को सच साबित करने के लिए राहुल गांधी के नाम का फायदा उठा रहा है।

कश्मीर के मुद्दे को लेकर एक बार फिर जो गरमा-गर्मी का माहौल हुआ है उसमे बीजेपी भी चुप रहने वाली नहीं थी। जब कांग्रेस पार्टी के नेता राहुल गाँधी का बचाव करने के लिए सामने आये तो बीजेपी के नेता भी कांग्रेस को करारा जवाब देने से पीछे नहीं हटे। बीजेपी के वरिष्ठ नेता और केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए कहा है कि हर जगह मुँह की खाने के बाद पाकिस्तान के पास अब आखिरी सहारा कांग्रेस ही बचा है। कांग्रेस पार्टी और राहुल गांधी ने भारत को बहुत ज़ख्म दिए हैं। साथ ही उन्होंने ये भी कहा कि जब पैरों के नीचे से ज़मीन खिसक गयी उसके बाद राहुल गांधी ने अपना बयान दिया है।

जिस तरह कांग्रेस पार्टी के नेताओं ने अनुच्छेद 370 के फैसले का विरोध सोशल मीडिया पर किया उसका ऐसा होना तो संभव था। आखिर पाकिस्तान को अपनी बात रखने के लिए किसी सहारे की ज़रूरत तो होती ही है और इस बार उनका सहारा राहुल गाँधी बने हैं।

आपको बता दें कि जबसे भारत सरकार ने अनुच्छेद 370 को हटाया है तबसे ही पाकिस्तान ने चैन की सांस नहीं ली है ऐसे में पाकिस्तान वो सभी मुमकिन कोशिशे कर रहा है जिनसे वो भारत पर दबाव बना सके और भारत सरकार को कश्मीर से अनुच्छेद 370 को हटाने के फैसले को वापस लेने के लिए मजबूर कर सके। लेकिन पाकिस्तान के इन इरादों में उसे हर बार नाकामी ही हांसिल हुई। जहाँ कई बड़े देशों ने इसे भारत का आंतरिक मामला कह कर अपना पक्ष साफ़ कर दिया वहीँ कुछ देशों ने इस मामले में चुप रहना ही बेहतर समझा। इतना ही नहीं पाकिस्तान के करीबी दोस्त चीन ने भी इस मामले को भारत का आंतरिक मुद्दा बता दिया है। ऐसे में पकिस्तान राहुल गांधी को अपना आखरी विकल्प माना है। देखना अब ये होगा कि राहुल गांधी के बयानों ने जो भारत को नुक्सान पहुँचाया है कांग्रेस उसको कैसे पूरा करेगी और अपने बचाव में किस तरह और नए बयान देगी।

the panchayat

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here