पाकिस्तानी कप्तान सरफराज ने कहा चमत्कार होगा और हम ज़रूर जीतेंगे

418
Pakistani captain Sarfaraz said the miracle would happen and we would definitely win

विश्व कप सेमीफाइनल का फॉर्मेट लगभग लगभग सेट हो चुका है.भारत,न्यूजीलैंड, इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया ये चार टीमें ऐसी है जो क्रिकेट की दुनिया के सबसे बड़े रंगमंच पर ट्रॉफ़ी के लिए आपस में भिड़ेगी. अपना पड़ोसी पाकिस्तान यूँ तो टूर्नामेंट से लगभग बाहर हो चला है लेकिन उसके कप्तान सरफराज साहब के विचार सबसे अलग है.उनको लगता है की पाकिस्तान के साथ चमत्कार होगा और वो टूर्नामेंट में ना सिर्फ आगे बढ़ेगा बल्कि खिताब भी जीतकर जाएगा. अब आप कहेंगे कि जब पाकिस्तान से बाहर हो चुका है तो कप्तान साहब ऐसा क्यों कहा रहे हैं.असल में हुआ क्या है कि पाकिस्तान के फिलहाल 9 अंक हैं और न्यूजीलैंड के 11 अंक है.न्यूजीलैंड के सारे मैच खत्म हो गए हैं जबकि पाकिस्तान का एक मैच बचा हुआ है जो आज थोड़ी ही देर बाद बांग्लादेश के साथ खेला जाएगा. पाकिस्तान को अगर सेमीफाइनल में जाने के लिए ना सिर्फ उसमें ना सिर्फ जीत दर्ज करनी ज़रूरी है बल्कि रनों के बड़े मार्जिन से विरोधी टीम को पीटना भी जरूरी है.

मने आसान भाषा में समझाऊं तो पाकिस्तान के सामने सेमीफाइनल तक पहुँचने के लिए कुछ पहाड़ जैसी चीजें खड़ी है.पाकिस्तान सेमीफाइनल में कब और कैसे पहुँच सकता है चलिए पहले उसको ही समझते हैं.

बस सबसे ज़रूरी बात ये है कि बांग्लादेश के खिलाफ पाक बल्लेबाजी करे और अगर बाई चांस बल्लेबाजी ना आई तो उसके लिए बॉल डलने से पहले ही मैच खत्म ही हो जाएगा.

अब अगर पाकिस्तान पहले बल्लेबाजी करते हुए 350 रन टांग देती हैं तो उसे बांग्लादेश की टीम को 38 रन पर आउट करना होगा, 400 रन बनाती है तो उसे 84 रन पर आउट करना होगा. मतलब कुल मिलाकर ये है कि हर हाल में पाकिस्तान को बहुत बड़े मार्जिन से जीत दर्ज करनी होगी.ऐसा इसलिए करना होगा क्योंकि 11 पॉइंट न्यूजीलैंड के हैं,उसका रन रेट भी बढ़िया है तो अगर सेमीफाइनल में आना है तो पाकिस्तान को ना सिर्फ जीत दर्ज करनी होगी बल्कि रन रेट को बढ़िया करने के लिए तगड़े अन्तर से बांग्लादेश को हराना भी होगा. अब भले सरफराज साहब अपने आपको मज़बूत बताकर इस मुकाबले में जीत हासिल करने की बात कहते फिर रहे हो लेकिन पहली बात यही है की वो मजबूत है नही इसलिए दिमाग से मजबूत होने का गुमान तो निकाल ही दे तो ज़्यादा बढ़िया रहेगा और दूसरी बात ये है कि बांग्लादेश वाले कमज़ोर बिल्कुल नही है जो टीम पाकिस्तान का सूपड़ा पहले भी साफ कर चुकी हो,इंडिया ऑस्ट्रेलिया जैसी टीमों को नाको चने चबवा चुकी हो उसके खिलाफ चमत्कार की उम्मीद करना बेमानी ही लगता है बॉस.सरफराज जी अगर सही से बताऊं तो फिलहाल पाकिस्तान को चमत्कार की नही अच्छी टीम की ज़रूरत है,जिसपर आपको काम करने की बहुत ज़रूरत है.

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here