ट्विटर पर क्यों भिड़े महबूबा मुफ़्ती और उमर अब्दुल्ला

467
Omar Abdullah, Mehbooba Mufti fight between Triple Talaq Bill
Omar Abdullah Mehbooba was quick to remind Mufti that two legislators in the Rajya Sabha had escaped from voting on the triple talaq bill.

सो फाइनली संसद के दोनों सदनों में तीन तलाक बिल [ Triple Talaq Bill ] पारित हो गया है. तीन तलाक का दंश झेल रही महिलाएं खुश है. इस बिल को जब राज्यसभा लाया गया तो वहां इसके विरोध में 84 वोट पड़े जबकि 99 सांसद ऐसे रहे जिन्होंने इसके पक्ष में वोट दिया था. देश का बड़ा तबका ऐसा है जो मुक्त कंठ से इस फैसले की तारीफ़ कर रहा है,इतने बड़े कदम को उठाने के चलते सरकार की तारीफों के पुल बांध रहा है. दूसरी तरफ मुस्लिम धर्म से जुड़े ज्यादातर लोगों का मानना है की सरकार ने इस फैसले के जरिये मुस्लिमों के धर्म में दखल देने की कोशिश की है जो बहुत गलत है. राज्यसभा में जब ये बिल रखा गया तो कांग्रेस सहित अधिकतर विपक्षी दलों के साथ-साथ अन्नाद्रमुक, वाईएसआर कांग्रेस ने भी तीन तलाक संबंधी विधेयक का कड़ा विरोध करते हुए इसे प्रवर समिति में भेजे जाने की मांग की. यही नहीं, विपक्षी दलों के सदस्यों ने इसका मकसद ‘मुस्लिम परिवारों को तोड़ना’ बताया.

LSTV

खैर,अब बिल पास हो चुका है लेकिन फिर भी विपक्ष इसका पुरजोर तरीके से विरोध कर रहा है. विरोध से अब हो क्या जाएगा बस ये हमें भी समझ नही आता,वहीं उमर अब्‍दुल्‍ला और महबूबा मुफ्ती तो इसी मसलें को लेकर एक दूसरे से भिड़े हुए हैं.

इनकी जंग शुरू हुई ट्विटर से,हुआ कुछ ऐसा की कि महबूबा मुफ़्ती ने ट्विटर पर एक पोस्ट करते हुए लिखा की ‘जब उच्चतम न्यायालय ने इस बारे में कोई निर्णय दे दिया है तो वो तो अपने आप में एक कानून बन गया है. ऐसे में अलग कानून लाने का क्या औचित्य है? ये मुस्लिमों को निशाना बनाने की चाल है.

Twitter

अब इधर उन्होंने ये ट्वीट किया और उधर उमर अब्‍दुल्‍ला ने पूर्व मुख्‍यमंत्री महबूबा मुफ्ती की क्लास लगा दी. उन्होंने रीट्वीट करते हुए कहा कि आपकी पार्टी की गैरमौजूदगी की वजह से सरकार को ये बिल पास कराने में मदद मिली.


अब्‍दुल्‍ला ने ट्वीट किया,’महबूबा मुफ्ती जी, आप ट्वीट करने से पहले ये चेक करिए कि आपके सांसदों ने इस बिल पर कैसे वोट दिया. मुझे लगता है कि वे सदन से अनुपस्थित रहे और ऐसा करके उन्‍होंने सरकार की मदद की.क्‍योंकि बिल को पास कराने के लिए सरकार को नंबर चाहिए थे.

Twitter

वैसे ये कोई पहला मौका नही है जब ये दोनो आपस में भिड़े हो इससे पहले भी इनकी सोशल मीडिया पर भिंडत होती रही है

the panchayat

3 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here