धारा 144, तनाव, बंद इंटरनेट और पत्थरबाजी…कश्मीर नही जयपुर में

704

राजस्थान राज्य की राजधानी जयपुर को यूनेस्को द्वारा वर्ल्ड हेरिटेज दर्ज़ा दिया गया है. लेकिन इस पिंक सिटी के अंदर रविवार को एक घटना घटी जिससे तनाव का माहौल पैदा हो गया. शांत शहर में उपद्रवियों का आतंक देखने को मिला.

kavad yatra
फोटो : newsstate.com

हुया कुछ ऐसा था कि रविवार को चार दरवाजा के पास शिव मंदिर में कांवड़ चढ़ा रहे लोगों पर कुछ लोगों ने पथराव कर दिया था. इसके बाद से क्षेत्र में तनाव हाे गया. सोमवार रात को यह उग्र हो गया. भीड़ को काबू करने के लिए आंसू गैस के गोले दागे गए. पूरे इलाके में पुलिस बल तैनात किया गया. विवाद मंगलवार की रात को भी भड़का. रात 10:30 बजे रावलजी चौराहे और 11:20 बजे बदनपुरा में दोनों पक्ष फिर से आमने-सामने आ गए. एक पक्ष के लाेगाें ने झगड़े के बाद पथराव कर दिया और 30 से अधिक वाहनों में तोड़फोड़ कर दी. पथराव में 10 लोग घायल हो गए. सुभाष चाैक थाना पुलिस माैके पर पहुंची. स्थिति काबू में नहीं आई ताे अतिरिक्त पुलिस बल बुलाया गया.

देर रात 15 थाना क्षेत्रों में धारा 144 लागू कर दी गई और इंटरनेट पर पाबंदी लगाई गयी जो बुधवार तक रहने का बताया गया. इससे पहले सुबह पुलिस ने उपद्रव के मामले में 5 लोगों को गिरफ्तार किया और दोपहर को क्षेत्र के लोगों के साथ बैठकें कर शांति की अपील की गई, लेकिन रात को हिंसा भड़क गई.

jaipur riot
फोटो : bhaskar.com

इस बीच स्थानीय लोगों का कहना है कि अगर दूसरे पक्ष ने उपद्रव किया तो उसका जवाब जरूर मिलेगा. गुरुवार को त्यौहार है इसलिए वो कोई बवाल नहीं चाहते है. उधर मौके पर तैनात पुलिसकर्मियों का कहना है कि हालात बेकाबू होने की स्थिति में कर्फ़्यू लगा देंगे.

jaipur riots
फोटो : patrika.com

पुलिस कमिश्नर आनंद श्रीवास्तव ने बताया कि गलतागेट, रामगंज, सुभाष चाैक, माणक चाैक, ब्रह्मपुरी, काेतवाली, संजय सर्किल, नाहरगढ़, शास्त्रीनगर, भट्टा बस्ती, आदर्शनगर, माेतीडूंगरी, लालकाेठी, टीपी नगर और जवाहर नगर इलाके में धारा 144 लगाई गई है. चप्पे-चप्पे पर पुलिस बल तैनात कर दिया गया है.

the panchayat

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here