जब अरुण जेटली ने चुकाई रजत शर्मा की कॉलेज फ़ीस तब रजत का क्या था रिएक्शन

546
arun jetali and rajat sharma
अरुण जेटली और रजत शर्मा / फ़ोटो : msn.com

सबसे अच्छा दोस्त वही है जो आपको कभी अकेला नहीं छोड़ता और अपनों के दूरी बनाने के बाद भी साथ नहीं छोडता. दोस्ती का भी एक साइंस है जो कहता है लंबी उम्र चाहिए है तो दोस्तों की संख्या बढ़ाइए. भाजपा के वरिष्ठ नेता और पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली(Arun Jetali) भी दोस्ती निभाने में माहिर थे. चलिये जानते है उनसे जुड़ा दोस्ती का किस्सा.

arun jetali and rajat sharma
अरुण जेटली और रजत शर्मा / फ़ोटो : msn.com

27 साल से चला रहे ‘आप की अदालत’ के होस्ट और वरिष्ठ पत्रकार रजत शर्मा को आप लोग सभी जानते ही होंगे, लेकिन क्या आपको पता है उनके सबसे अच्छे दोस्त अरुण जेटली थे. चलिये इन दोनों की दोस्ती के बारे में आज बात करते है.

वाक्या कुछ 45 साल पुराना और श्रीराम कॉलेज से जुड़ा हुया है. रजत शर्मा कहते है कि वो बहुत होशियार नहीं थे, लेकिन संयोगवश उन्होंने जब 11वीं पास की तब उनका नाम मैरिट में था. जिसकी वजह से उन्हें श्रीराम कॉलेज में एडमिशन मिल गया. कॉलेज में पहले दिन उनकी मुलाक़ात अरुण जेटली से हुई. अरुण उस समय कॉलेज यूनियन के अध्यक्ष थे. कॉलेज का पहला दिन था रजत फीस जमा करने के लिए लाइन में लगे थे. जेब में कुछ ही सिक्के थे, जिन्हें रजत बार-बार गिन रहे थे क्योंकि फीस पूरी नहीं थी. देरी से फीस देने के कारण अकाउंटेंट ने रजत को डांटा और कहा कि इकट्ठे पैसे लेकर आया करो और जब फीस में से 4 रुपए कम निकले तो अकाउंटेंट एक बार फिर जोर से चिल्लाया. उसी वक़्त अरुण वहां से निकाल रहे थे. चिल्लाने की आवाज सुन कर वो आए और अकाउंटेंट को डांटते हुये कहा कि फ्रेशर से ऐसे कैसे बात कर सकते हो. अरुण ने फीस पूरी करने के लिए जेब से 5 रुपए निकालकर रजत को दिए और फिर कंधे पर हाथ रखकर कैंटीन लेकर गए और बोले तुम्हारे पास तो चाय के लिए भी पैसे नहीं होंगे, चलो तुम्हे मैं चाय पिलाता हूं. 

rajat shrama
रजत शर्मा / फ़ोटो : indiatvnews.com

इस पूरी वाकये को रजत शर्मा ने अपने मशहूर शो ‘आप की अदालत’ में खुद साझा किया. उस घटना के बाद दोनों के बीच दोस्ती की गहराई और बढ़ती चली गयी, जो सालों पहले पारिवारिक रिश्ते में तब्दील हो गयी. बताया जाता है कि जेटली ने रजत की शादी अपने बंगले पर रचाई और बाद में उनके टीवी करियर में भी भरोसेमंद दोस्त की तरह हमेशा साथ निभाया.

arun jetli
अरुण जेटली (फ़ाइल फ़ोटो)

ऐसे थे भाजपा के कद्दावर नेता और पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली. दोस्ती निभाने में हमेशा आगे रहते थे. अफ़सोस की बात ये है कि जेटली अब दोस्तों की मदद नहीं कर पाएंगे क्योंकि उनका निधन दिल्ली के एम्स अस्पताल में शनिवार को दोपहर 12 बजकर 7 मिनट पर हो गया.

the panchayat

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here