TikTok Video पर महिला कांस्टेबल को सस्पेंड करने वाली अधिकारी खुद बनाती है टिक-टॉक विडियो

682
Videograbs from the TikTok videos of IPS officer Manjita Vanzara and suspended Constable Alpita Chaudhary.
Photo : TheIndianExpress

चीन देश का एक एप भारत देश के साथ साथ दुनिया में तहलका मचा रहा है. आप में से बहुत से लोग इस एप का इस्तेमाल भी करते होंगे. इस एप का नाम है TikTok. इससे पहले TikTok म्यूजिकली के नाम से फेमस थी. इस एप के जरिये आप अपना एक छोटा सा विडियो बनाते है. आप लिप सिंक [ Lip sync ] करके या अपना खुद की आवाज में विडियो रिकॉर्ड करते है फिर कुछ फिल्टर्स की मदद से एडिट करने के बाद इस प्लैटफ़ार्म पर अपलोड करते है. जितना ज्यादा ये एप भारत में फेमस हुआ उतनी ही विवादो की लड़ी लगती रही. इस एप की कंपनी को भारत के लिए अपनी पॉलिसी में कुछ ठोस बदलाव करने पड़े.

Videograbs from the TikTok videos of IPS officer Manjita Vanzara and suspended Constable Alpita Chaudhary.
Photo : TheIndianExpress

हाल ही में गुजरात राज्य के महेसाणा जिले की लाघनज पुलिस थाने की महिला कांस्टेबल अर्पिता चौधरी [ Women Constable Arpita Choudhury ] को एक टिकटोक विडियो के कारण नौकरी से निलंबित कर दिया गया था. मजे की बात यह है कि, चौधरी का निलंबन एसीपी मंजीता वंजारा [ ACP Manjita Vanzara ] ने किया था. निलंबन के 2 दिन बाद खुद एसएसपी का एक टिकटोक विडियो वायरल हो रहा है. अब देखना है कि पुलिस प्रशासन इस पर क्या कदम उठाती है?

चौधरी का विडियो थाने के अंदर शूट किया गया था. वंजारा अपने टिकटोक विडियो पर सफाई देते हुये कहती है मेरा ये विडियो मेरी फ्रेंड की प्रोफाइल से अपलोड किया गया है और मैं आज के जमाने की पुलिस अधिकारी हूँ, मैं सारी सोशल मीडिया [ social media ] का यूज करती हूँ. जब मंजीता से अर्पिता के निलंबन का कारण पूछा तो कहती है अर्पिता को टिकटोक विडियो से निलंबित नहीं किया गया है. वो अपने ड्यूटी में बिना वर्दी के थी इसलिए उसे निलंबित किया है.

लेकिन गुजरात के पुलिस डिपार्टमेंट में टिकटोक का क्रेज इतना परवान चढ़ चुका है कि एक के बाद एक किसी ना किसी पुलिस कर्मी के निलंबन की खबर सामने आती रहती है. अभी हाल ही में राजकोट के ट्रैफिक पुलिस के 2 कान्स्टेबलो को सस्पेंड कर दिया है. ड्यूटी के दौरान डेढ़ महीने पहले शूट किए गए विडियो पर उन्हे सस्पेंड कर दिया. उस विडियो में दोनों पीसीआर वैन पर पोज देते हुये नजर आ रहे है.

इससे पहले अहमदाबाद के महिला पुलिस स्टेशन की कांस्टेबल संगीता परमार का एक टिकटोक विडियो वायरल हुआ था, जिसमे वो वर्दी पहने हुयी थी. इससे पहले भी बहुत से गुजरात के पुलिसकर्मियों के टिकटोक विडियो वायरल हुये है.

गुजरात पुलिस प्रशासन के सभी बड़े अधिकारियों की रातो की नींद उडी हुयी है. इसी के चलते गुरुवार 25 जुलाई 2019 को गांधीनगर में सभी वरिष्ठ अधिकारियों ने मिलकर एक बैठक की. बैठक में एक ऐसा प्रावधान लाने पर चर्चा की जिससे पुलिसकर्मी ऑनड्यूटी ऐसे विडियो बनाने से रोका जा सके. अहमदाबाद पुलिस कमिश्नर एके सिंह [ Ahmedabad Police Commissioner AK Singh ] ने कहा पुलिस प्रशासन पुलिसकर्मियों के ऐसे विडियोज की जांच करेगा तथा अनुशासनहीनता की दशा में कार्रवाई करेगा.

the panchayat

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here